आईपीएल 2020 का रास्ता साफ़, टी-20 वर्ल्ड कप पर अनिश्चितता- CA chairman

द इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) वर्ल्ड कप 2020 पर फैसला लेते हुए दिखाई नहीं दे रही है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड इस साल विश्व कप को कराने में असमंजस व्यक्त कर रही है| इससे बीसीसीआई को एक अच्छे संकेत मिलते है और आईपीएल 2020 को करवाने के लिए एक शानदार प्लाट मिल सकता है| बीसीसीआई के लिए आईपीएल 2020 का रास्ता साफ़ हो गया है|

यह भी पढ़ें: MI vs CSK head to head: आंकड़ो से जानें कौनसी टीम है ज्यादा खतरनाक

कोरोना वायरस महामारी (COVID-19 pandemic) ने इस समय पूरी दुनिया को हिला रखा है| जिसके चलते खेल गतिविधियाँ भी काफी हफ्ते से लंबित है| कई प्रतियोगिताएं बीच में रोक दी गयी गयी थी|

टी-२० वर्ल्ड कप 2020 इस साल अक्टूबर नवम्बर में होना था, जिस पर सब क्रिकेट फैन्स अपनी नजरें टिकाये बैठे है| ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड, जो कि इस प्रतियोगिता के लिए होस्ट है, उसके पास इसके बारे में फैसला लेने का अधिकार है, कई बार इस साल यह महा प्रतियोगिता को करवाने पर संसय प्रकट कर चुके है|

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चेयरमैन ने एक रिपोर्ट को इंटरव्यू में कहा “ इस पर अभी पक्का फैसला नहीं हुआ कि टूर्नामेंट को इस साल करवाया जाए या आगे बढ़ाया जाए या 16 देशों को इस वर्ल्ड कप में आने की इजाजत दी जाए, हालांकि अभी भी लगभग सभी कंट्री कोरोना महामारी से जूझ रहे है, मुझे लगता है, यह अवास्तविक है, या फिर यह बहुत ज्यादा मुश्किल होने वाला है|”

यह भी पढ़ें: डैरेन सैमी का भेदभाव का आरोप: आईपीएल के साथी खिलाड़ी उन्हें “कालू” कहकर पुकारते थे

आईपीएल 2020 का रास्ता साफ़:

आईपीएल 2020 का रास्ता साफ़
आईपीएल 2020 का रास्ता साफ़

बीसीसीआई अभी तक टी-20 वर्ल्ड कप पर आईसीसी के फैसले का इंतजार कर रही है ताकि वह इस स्लॉट में आईपीएल 2020 का आयोजन करवा सके| आईसीसी का ऑफिसियल फैसला आना अभी बाकी है, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को इसका फैसला सौंपना भारत के लिए अच्छे संकेत हो सकते है|  ऐसे में बीसीसीआई ने भी राज्य स्तरीय अधिकारीयों और फ्रेंचाईजी की उच्च स्तरीय बैठक को इस पर फैसले तक टाल रखा है|

लॉकडाउन हटने के साथ ही पूरे देश में खेल गतिविधियाँ बढ़ने लगी है, इस महामारी के समय में बीसीसीआई इस प्रतियोगिता को दूसरे देश में करवाने पर भी विचार कर सकती है| लेकिन यह अंतिम रास्ता हो सकता है|

इस महामारी से भारत बुरी तरह प्रभावित है, अभी भी ग्राफ फ्लैट होने का नाम नहीं ले रहा है| श्रीलंका और सऊदी अरब इस टूर्नामेंट को करवाने में रूचि रखते हैं| ऐसे में बीसीसीआई इस टूर्नामेंट को सितम्बर-अक्टूबर में करवाने के लिए करवाने के लिए बाहरी देश भी जा सकती है|

यह भी पढ़ें: MI vs RCB head to head: आईपीएल इतिहास में कौनसी टीम है खतरनाक

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.